Open/Close Menu Dr. Haldhar Patel | Anmol Health Care

हार्ट यानी दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है. अक्सर दिल संबंधी बीमारियां होने के बाद भी हम इससे अनजान रहते हैं जो बाद में हार्ट अटैक या कार्डियक अरेस्ट की वजह बन सकता है. जाने माने कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav) का भी कार्डियक अरेस्ट की वजह से निधन हो चुका है……..

रोग प्रत‍िरोधक क्षमता कमजोर है तो आपको इंटरम‍िटेंट फास्‍ट‍िंग अवॉइड करना चाह‍िए। ज्‍यादातर लोगों को सही लीन बॉडी मास मेनटेन करके रखना होता है और रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय पर….

स्टेमिना शक्ति और ऊर्जा है जो आपको लंबे समय तक शारीरिक या मानसिक कार्यों को करने की अनुमति देती है। जब आप कोई गतिविधि कर रहे हों तो अपनी सहनशक्ति बढ़ाने से आपको असुविधा या तनाव सहने में मदद……

सुबह उठकर हल्के-फुल्के कदम से रोजाना चलना ढेर सारे फायदों की एक वजह है, जो आपके बॉडी फैट को कम करती है, हार्ट हेल्थ को बेहतर बनाता है, एनर्जी लेवल बढ़ता है, टेंशन का लेवल कम हो जाता है और इम्यूनिटी के साथ-साथ संतुलन और कोर्डिनेशन को भी बेहतर बनाता है। एक शोध में ये सामने आया है कि चलने के तरीके से भी आप ज्यादा फायदा ……

इन दोनों ही बीमारियों में उम्र बढ़ने के साथ ही बदलाव देखे जाते हैं। यादाश्त का कमजोर होना सोचने समझने में दिक्कतों का सामना करना, महत्वपूर्ण बदलावों में से एक हैं। इसके ज्यादातर लक्षण एक जैसे होने के कारण या पहचान पाना मुश्किल होता है कि किसी……

बहुत सारे किडनी रोगियों को प्रति सप्ताह डायलिसिस की आवश्यकता पड़ती है डायलिसिस कराने का अर्थ यह है कि खून की सफाई कराना। खून की सफाई मशीनों द्वारा की जाती है इसे डायलिसिस…….

शरीर को प्रतिदिन 84 मिनरल्स या खनिज लवण चाहिये क्योंकि हमारे मिनरल्स की आयु सिर्फ 24 घण्टे ही होती है इसीलिए हमें इनकी प्रतिदिन की आवश्यकता…………………….

पेट के श्लेष्मकला अस्तर जब क्षतिग्रस्त हो जाते हैं तो उसके कारण अम्लों का जरूरत से ज्यादा स्राव होने लगता है जिसके कारण पेट में अल्सर रोग हो जाता हैं। श्लेष्मा झिल्ली के पेट में क्षतिग्रस्त होने पर गैस्ट्रिक अल्सर तथा डुओडेन क्षतिगस्त……

यदि आपका बायां पांव सुन्न होता है तो अपने दाएं हाथ को जोर से बाहर की ओर झुलायें या झटके दें। यदि आपका दायां पांव सुन्न है तो अपने बाऐं हाथ को जोर से बाहर की ओर…….

यह नर्व पीठ के निचले हिस्से से शुरू होकर पैरों के अंगूठे तक पहुचती है। यह नश हमारी मांस पेशियों को शक्ति देने का काम करती है और इसी की वजह से हमे संवेदना…..

For emergency cases        +91-9098472777